पद्मावती फिल्म पर मोदी की चुप्पी आगामी चुनाव में हार ………

पद्मावती फिल्म पर मोदी की चुप्पी आगामी चुनाव में हार ………

 

India-पद्मावती फिल्म का विव्वाद थमने का नाम ही नही ले रहा है एक तरफ सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद फिल्म पुरे भारत में 25 जनवरी को रिलीज़ की जा रही है तो वही करनी सेना द्वारा मूवी टिकेट और भंसाली द्वारा फिल्म देखने का पत्र करनी सेना द्वारा फाड़ दिया गया . जब कोई विव्वाद दो लोगो के विच होता है तो वह घर का विवाद होता है उसे घर वाले सुलझा सकते है .

जब तक यह विवाद राजस्थान में था तो राज्य सरकार की जिम्मेदारी थी की उसका कोई हल निकले पर अब यह विवाद पुरे भारत में फ़ैल चूका है और देश के प्रधान मंत्री द्वरा कोई प्रति किरिया अभी तक सामने नही आयी है और नही देश में शांति बनाये रखने की बात उनके द्वारा सुनी गई है .

ऐसा लग रहा है मोदी की चुप्पी कही आगामी चुनाव में उनकी हार का कारण न बन जाये क्यों की 2004 में अटल विहारी बाजपेयी द्वारा बाबरी और राममंदिर में हुए विव्वाद पर चुप्पी साधी थी जिसका नतीजा उन्हें हार झेलनी पड़ी. कही न कही ऐसे समीकरण फिर बनाते अ रहे क्यों की पूरा देश जल रहा है और देश का प्रधान मंत्री कुछ नही बोल रहा है .

माना जब कोई फिल बनती है तो उस पर सेंसर  बोर्ड का हक़ होता है की रिलीज़ होगी की नहीं ,पर जब पुरे देश में अशांति का माहोल होता है और आप विदेश में घूमते नजर आते है तो कही न कही ऐसा लगता है की जैसे देश का प्रधान मंत्री कमजोर नजर दिखाई देता है .

देश के प्रधान मंत्री को अपनी चुप्पी तोड़ते हुए देना चाहिए देश में शांति बनाये रखने का सन्देश -:

जिस देश के प्रधान मंत्री द्वारा मित्रो कहते ही लोगो की नींदे और उम्मीदे जग जाती थी आज उसी देश में मानो एक ज्वाल जलती नजर आ रही है  अब बस एक दिन शेष   रिलीज़ होने में और देश में कही ऐसा नहीं  लग रहा है की शांति नजर आ रही हो .

जिस तरह पिछले चार साल में देश में शांति और सरहद पर कई आतंकी मारकर आपने जनता के दिलो पे जो राज किया है उसे ख़तम करने के लिए ये एक साजिश भी हो सकती है क्यों की “करनी सेना” और “भंसाली”  दोनों लोगो में कोई सांति जैसी स्थति के बारे नही बोल रहे है और न ही कोई देश नेता,अभिनेता और कई बड़े लोग जो आराम से इस कोहराम को देख रहे है .

क्यों की जब से इस फिल्म का विरोध सुरु हुआ है तब से हर कोई धमकी भरे लहजे में फिल्म का समर्थन और विरोध करते नजर आया रहे कोई भी इस समस्या का समाधान और शांति बनाये रखने की बात नही कह  रहा है.

(देश में फिल्म रिलीज़ हो या न हो पर सभी लोगो से अपील है की देश में शांति बनाये रखे)

Leave a Reply

Your email address will not be published.